After Engineering Law | Cyber और Internet Lawyer कैसे बने?

लॉ प्रोफेशन दुनियभर में एक अच्छा करियर ऑप्शन माना जाता है, जोकी काफी थ्रीलिंग और रोमांचक करियर विकल्प है| अगर आप भी लॉ करने का सोच रहे हैं, पर पता नहीं के शुरुआत कैसे करना है तो आप एक दम सही जगह पर आए हैं| यहाँ पर आपको हर एक महत्पूर्ण इनफार्मेशन मिलेगी जो आपको इस करीयर को फॉलो करने में हेल्प करेगी और आप जान पाएंगे के स्टार्ट कहाँ से करना है|

जैसा के इस आर्टिकल के हैडिंग से “After Engineering Law” मालूम चल रहा यह पूरा आर्टिकल उन लोगों केलिए है जिन्होंने पहले B.Tech (Engineering) की हुई है या किसी technical बैकग्राउंड से ताल्लुक रखते हैं, जैसे की BCA, MCA | और अब लॉ में अपना करियर बनाना चाहते हैं|

यह आर्टिकल उन स्टूडेंट्स के लिए भी है जो अभी 12वीं कक्षा में हैं और इंजीनियरिंग करने के बाद लॉ करना चाहते हैं|

एक नार्मल लॉयर (वकील) और एक साइबर लॉयर में क्या अंतर है जाने

अगर आप भी उन्ही स्टूडेंट्स में से हैं जिन्होंने पहले इंजीनियरिंग करी, क्योंकि आपको भी लगता था जैसा बाकि लोग कर रहे हैं वैसा में भी कर्रूँगा तो लाइफ में सक्सेस हो जाऊंगा (भीड़ के पीछे भाग रहे थे)| पर अब आपको लगता है मुझे लॉ में दिलचस्पी है और मुझे लॉयर बनना है| तो मैं बता दूँ (as a friend) के आपको लॉ करने से पहले उसके बारे में जानना जरुरी है, जैसे की आपके के पास कौन-कौन सी खूबिआं होनी चाहिए और एक लॉयर बनने केलिए आपको किन-किन पड़ावों का सामना करना पड़ेगा|

अगर आपको लॉ में करियर बनाने में दिलचस्पी है तो आपको ये दो पोस्ट अवय्श्य ही पढ़ना चाहिए

  1. लॉयर कैसे बने ?, इस लेख में आपको किन-किन पड़ावों को पार करना पड़ेगा लॉयर बनने के लिए इसकी पूरी जानकारी मिलेगी|
  2. साइबर लॉयर बनने के लिए आपके पास कोनसे Skills होने चाहिए

मेरा कहने मतलब यह नहीं के पहले आपने गलत फैसला लिया Engineering करके, मैं बस यह बोलना चाहता हूँ के किसी भी करियर को चुनने से पहले आपको उस करियर के बारे में मालूम कर लेना चाहिए|

ज्यादातर स्टूडेंट्स के पास ऐसे साधन नहीं होते या उनके जानने में ऐसा कोइ व्यक्ति नहीं होता जोके उनको सही गाइडेंस दे सके| इस वजह से भी बहोत सारे स्टूडेंट्स को पता नहीं चल पता के आखिर उनके लिए कोनसा करियर विकल्प अच्छा है जिसमें वो अपना फ्यूचर ब्राइट बना सकते हैं| Tension Not! CareerJano.com आपकी पुरी सहायता करेगा|

ऐसा नहीं है के आपने इंजीनियरिंग करके गलत किया बल्कि अगर आप लॉ में अपना करियर बनाने के बारे में सोच रहे हैं तो यह काफी अच्छा फैसला है| बी.टेक करने के बाद लॉ करना एक काफी अच्छा करियर विकल्प है, खास करके Cyber Law.

बहोत सरे लॉयर्स यह भी बोलते हैं के अगर आपको साइबर लॉयर बनना है तो आपके पास टेक्निकल बैकग्राउंड होना चाहिए|

साइबर लॉ definitely एक टेक्निकाल स्टूडेंट केलिए काफी अच्छा करियर विकल्प है चुनने को, इसलिए “After Engineering Law” के इस आर्टिकल में हम बात करने जा रहे हैं Cyber Lawyer कैसे बना जाये| साइबर लॉयर को Internet Lawyer भी कहा जाता है|

Cyber Law से जुडी जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

 

After Engineering Law | B.Tech करने के बाद साइबर लॉयर कैसे बने – Step-by-Step Procedure

[Step 1] High School (12th)/ Diploma

आपको इंजीनियरिंग में एडमिशन लेने के लिए senior secondary high school (12वीं कक्षा) को पास करना होगा science site से| एक अच्छे इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन लेने केलिए कम से कम आपके 60% मार्क्स होने ही चाहिए|

बारहवीं कक्षा न पढ़कर आप 10th क्लास के बाद डिप्लोमा में  भी एडमिशन ले सकते हो| अगर आप डिप्लोमा करते हैं तो आपको computer science से रिलेटेड सब्जेक्ट्स चुनने चाहिए|

तो आप इन दोनों में से किसी भी एक प्रोग्राम को चुन सकते हैं, या तो आप डिप्लोमा में एडमिशन ले सकते हैं या फिर science site से 11th class में अड्मिशन ले सकते हैं|

[Step 2] Engineering प्रवेश परीक्षा

भारत के प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग कॉलेजों में से एक में प्रवेश पाने के लिए आपको entrance examination की तयारी करनी करनी पड़ेगी| हालाँकि अगर आपका मकसद लॉयर बनना है तो आप किसी भी प्राइवेट इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन ले सकते हैं जो AICTE (All India Council for Technical Education) से approved हो|

[Step 3] B. Tech (Bachelor of Technology)

एक Cyber Lawyer बनने के लिए आपको B.Tech में IT (Information Technology) Branch का चयन करना चाहिए। आईटी की बजाय, आप कम्प्यूटर साइंस इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक्स और कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग इत्यादि जैसी किसी भी कंप्यूटर से संबंधित इंजीनियरिंग शाखा का चयन भी कर सकते हैं।

B.Tech is 4 years professional degree program. यदि आप 12 वीं के बाद B.Tech करने जा रहे हैं तो आपके चार साल (8 सेमेस्टर) लगेंगे और यदि आप डिप्लोमा करके B.Tech में एडमिशन लेते हैं तो आपको Engineering करने में तीन साल (6 सेमेस्टर) लगेंगे। डिप्लोमा के बाद, आपको सीधे इंजीनियरिंग की किसी भी संबंधित शाखा के दूसरे वर्ष में प्रवेश (lateral entry) प्राप्त होगा।

इंजीनियरिंग करने के अलावा आप इन दो तकनीकी कार्यक्रमों (Technical programs), BCA (Bachelor of Computer Application), B.Sc के लिए भी जा सकते हैं, Computer Science में। अगर आप इन दो पढ़यक्रमों (BCA and B.Sc (Computer Science)) में से किसी एक को चुनते हैं, अपने लक्ष्य को हासिल करने केलिए (साइबर लॉयर बनने के लिए) तो आपको  Step 2 पास करने की जरुरत नहीं है| मतलब के अगर आप 12th के बाद BCA या B.Sc करते हैं तो आपका टाइम बचेगा| इन कोर्सों को पूरा करने में लगने वाले समय की अवधि है 3 साल|

[Step 4] लॉ कॉलेज में प्रवेश पाने के लिए प्रवेश परीक्षा

ग्रेजुएशन (B.Tech या कोई और undergraduate degree) करने के बाद आप इन निम्नलिखित प्रवेश परीक्षाओं में भाग ले सकते हैं…

  • LSAT India
  • DU LLB
  • AP LAWCET
  • BHU-UET

ऊपर दिए हुए परीक्षाओं में उपस्तिथ होने के लिए नवीनतम योग्यता मानदंडों की जांच के लिए प्रवेश परीक्षा के नाम पर क्लिक करें।

[Step 5] LLB (Bachelor of Legislative Law)

साइबर लॉयर बनने केलिए आपको लॉ की पढाई करनी पड़ेगी, इसके लिए आपको LLB में ग्रेजुएशन पूरी करनी होगी| ग्रेजुएशन करने के बाद आपको एक लॉयर बनने केलिए 3 साल और मेहनत करनी पड़ेगी|

[Step 6] Cyber Lawyer Skills Set

एक लॉयर, साइबर लॉयर तभी बनता है जब उसके पास वो सारे गुण व शिक्षा हो जोके किसी साइबर लॉयर के पास होते हैं| मतलब के आप भले ही कोर्ट में वकील बन जाएँ और वकालत करते हों, आप साइबर लॉयर तब ताकि नहीं बन सकते जब तक के आपके पास सही कौशल (Skills) व ज्ञान नहो|

जानें साइबर लॉयर के पास कौन-कौन से कौशल होने चाहिए 

[Step 7] BAR Council Member

लॉ की डिग्री पूरी करने के बाद आपको Bar Council of India में अपना नाम रजिस्टर कराना होगा|  हर एक स्टेट में एक Bar Council होती है आप किसी भी स्टेट के बार में अपना नाम  रजिस्टर करा सकते हैं , के में एक वकील बनना चाहता हूँ और मुझे इंटनेट और साइबर से रिलेटेड फील्ड में वकालत करना चाहता हु कृपया मेरे एप्लीकेशन को मंजूर करें.

ज्यादातर लॉयर उस स्टेट में वकालत करना चाहते है जहाँ से वो बिलोंग करते हैं, इसलिए वो उसी स्टेट के Bar Council के member बनते हैं|

Bar Council of Delhi में नाम रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया को जानें

[Step 8] All India Bar Examination (AIBE)

Bar Council में रजिस्ट्रेशन की प्रकिर्या पूरी करने के बाद आपको AIBE का एग्जाम देना होता है, जोकि यह सुनिश्चित करता है के आप कोर्ट में लॉ प्रैक्टिस करने के योग्य हैं या नहीं|

AIBE का पेपर पास करने के बाद आपको एक सर्टिफिकेट issue हो जायेगा, जिसमे आपके वकील होने का प्रमाण रहता है|

[Step 9] Cyber Lawyer/ Cyber Law Expert

अब आप साइबर स्पेस और इंटरनेट से संबंधित अपराधों के मामले कोर्ट में दर्ज करा सकते हैं और अदालत में अपने क्लाइंट्स की और से मुक़दमे लड़ सकते हैं| आप साइबर अपराधों के अलावा किसी भी आपराधिक और नागरिक मामलों के लिए अदालत में मुकदमेबाजी भी कर सकते हैं।

जानें B.Tech (Engineering) के बाद साइबर लॉयर बनना कितना सही है (Cyber Lawyer Career Scope)

 

Conclusion

नियमित विधि (regular method) का पालन करके Cyber Lawyer बनने की समय अवधि

 5 to 7 years (after 12th)

जानें regular method को जिसको बहुत सारे स्टूडेंट फॉलो करते हैं

Cyber Lawyer बनने के लिए समय अवधि (After B. Tech)

7 to 8 years (after 12th)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *