सरकारी वकील के कार्य [Job Responsibilities] & [Duties]

क्या आप एक सरकारी वकील बनना चाहते हैं इसलिए आप जानना चाहते हैं की एक सरकारी वकील के कार्य क्या-क्या होते हैं| तो आप बिलकुल सही जगह पर आये हैं|

Career Jano आपको सरकारी वकील के कार्य से सम्बंधित जानकारी के अलावा यह भी जानकारी उपलब्ध कराएगा की आखिर एक सरकारी वकील अन्य वकील से अलग कैसे होता है|

एक सरकारी वकील को इंग्लिश में Public Prosecutor या Government Lawyer कहा जाता है|

सरकारी वकील के कार्य (Government Lawyer Job Responsibilities)

एक सरकारी वकील राज्य की न्यायपालिका या न्यायिक प्रक्रिया का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, जो मुकदमेबाजी, अपील और कानून से संबंधित अन्य प्रक्रियाओं के प्रभारी के रूप में कार्य करता है।

सरकारी वकील का कार्य केस से संबंधित सभी आवश्यक पहलुओं को ढूंढना और उसे कोर्ट के सामने उजागर करके अदालत के काम में सहायता करना है।

एक सरकारी वकील इन सभी महत्वपूर्ण कार्यों के लिए जिम्मेदार होता है…

  • पुलिस द्वारा फाइल की हुई चार्ज शीट का विश्लेषण करना|
  • एक सरकारी वकील नागरिक और आपराधिक दोनों मामलों को देखने के लिए जिम्मेदार होता है|
  • ट्रायल से पहले Pre-trial प्रोसेस को कंडक्ट करना, ताकि पुलिस द्वारा फाइल की हुई FIR और सबूतों का इन्वेस्टीगेशन सही से हो सके|
  • स्टेट गवर्नमेंट का बचाव करना कोर्ट में|

Superintendent of police (SP) या जिला मजिस्ट्रेट (DM) या अन्य कोई भी लोक अभियोजक को मुकदमा वापस लेने के लिए मजबूर नहीं कर सकते।

कार्य के समय एक सरकारी वकील को इन सभी महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखना चाहिए

  • सत्य की खोज करना मुख्य उद्देश्य होना चाहिए: लोक अभियोजक केस के तथ्यों के साथ छेड़-छाड़ नहीं कर सकता या गवाह की जांच करने से इनकार नहीं कर सकता है।
  • उसे आरोपियों का बचाव नहीं करना चाहिए। यह कानूनी पेशे के खिलाफ है।
  • एक सरकारी वकील का कर्त्तव्य होता है पीड़ित को सही इंसाफ दिलाना

जांच प्रक्रिया में एक सरकारी वकील की भूमिका

  • गिरफ्तारी वारंट हासिल करने के लिए कोर्ट के सामने पेश होना
  • आरोपियों से पूछताछ के लिए पुलिस कस्टडी रिमांड प्राप्त करना
  • केस के सम्बन्ध में में खोज करने के लिए खोज वारंट हासिल करना
  • पुलिस रिपोर्ट में अभियुक्त के evidence को दर्ज करना

मुकदमे के समय सरकारी वकील की भूमिका

  • सभी जरुरी गवाहों को बुलाने की ज़िम्मेदारी|
  • कोर्ट में केस से संबंधित सभी तथ्यों और आवश्यक दस्तावेजों को सामने रखना|
  • अभियुक्त की दोषी साबित होने पर सजा की मात्रा तय करने का तर्क देना।
  • अपराध की स्थिति और अपराध की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए पर्याप्त सजा के लिए बहस कर सकते हैं।
  • न्यायिक निर्णय पर पहुंचने में न्यायाधीश की मदद करना|

इन लेखों को भी पढ़े:

 

वकील और एक सरकारी वकील के बीच अंतर

एक सरकारी वकील को आपराधिक न्याय प्रणाली में आम लोगों के हित का प्रतिनिधित्व करने के लिए राज्य का एजेंट माना जाता है।

सरकारी वकील किसी जांच एजेंसियों का हिस्सा नहीं होता|

वह राज्य का प्रतिनिधित्व करता है, पुलिस का नहीं। वह राज्य का एक अधिकारी है और राज्य सरकार द्वारा नियुक्त किया जाता है।

सरकारी वकील को Cr.P.C की धारा 24 में परिभाषित किया गया है। जोकि Rule of Law के मूल सिद्धांत के ऊपर है “auld alteram partem” जिसका मतलब है “कोई भी व्यक्ति अनसुना नहीं किया जाएगा”

संछिप्त में:

एक सरकारी वकील का मतलब है: एक वकील जो सरकार का प्रतिनिधित्व करता है या सरकार के लिए निवेदन करता है।

एक निजी वकील का मतलब है: एक वकील जो एक निजी पार्टी का प्रतिनिधित्व या निवेदन करता है।

 

मुझे उम्मीद है की इस लेख के द्वारा आप सरकारी वकील के कार्य को समझ पाए होंगे| अगर आपका कोई प्रश्न है तो आपको निचे comment करके पूछ सकते हैं

2 thoughts on “सरकारी वकील के कार्य [Job Responsibilities] & [Duties]”

  1. अगर 12 व्यक्ति 302 के मुकदमे में है और 5 व्यक्ति अरेस्ट ही न पाए ऐसी स्थिति में क्या हो सकता h

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *